No icon

प्रशांत किशोर का नया नामकरण पेड किशोर करते हुए भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन ने ...

बागी प्रशांत किशोर पर जदयू बीजेपी कस रही है फब्तियां, कोई बता रहा है भाड़े का टट्टू तो कोई टुकड़े टुकड़े गैंग का नेता

Patna: अपनी बागी तेवर के लिए बिहार की गर्ल सत्ता के गलियारे हैं फेमस हो चुके प्रशांत किशोर को एक से एक फब्तियां सुनने को मिल रही है। प्रशांत किशोर को कोई भाड़े का टट्टू, तो कोई टुकड़े टुकड़े गैंग का भविष्य का नेता बताए है, तो कोई औकात में रहने की नसीहत देते हैं। पहले तो प्रशांत किशोर को जदयू ने अपने निशाने पर लिया और खूब खरी-खोटी सुनाई इसके बाद अब बीजेपी अपने निशाने पर ले कर खूब खरी-खोटी सुना रहा है।

Read Also:-पूर्णिया में स्कूल का चपरासी कर रहा था बच्ची के साथ छेड़छाड़, ग्रामीणों ने जमकर कुटा फिर क्या पुलिस के हवाले

टुकड़े-टुकड़े गैंग के नेता बनना चाहते हैं पेड किशोर

प्रशांत किशोर का नया नामकरण पेड किशोर करते हुए भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि पैसे लेकर नारा लिखते-लिखते पेड किशोर इतने आत्ममुग्ध हो गए हैं कि खुद को बहुत बड़ा नेता मान लिया है। पीके गेम प्लान के तहत अपने कद्दावर नेताओं को चुनौती दे रहे हैं। इनकी मंशा टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेता बनने की है, इसीलिए यह सीएए पर बयान देकर खुद को सुखिऱ्यों में बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं।

Read Also:-बिहार पॉलिटिक्स में टूटती जा रही भाषा की मर्यादा, प्रशांत किशोर को बताया राजनीति का दलाल और पॉलिटिकल कैरेक्टर लेस

प्रशांत किशोर पर नया हमला बीजेपी की ओर से किया गया है। बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने प्रशांत किशोर को पैसे लेकर राजनीति करने वाला बताते हुए कहा कि कुछ नेताओं की बड़े नेताओं पर टिप्पणी कर अपनी टीआरपी बढ़ाने की आदत होती है। जो लोग पैसा लेकर राजनीति करते हैं, उनके बारे में हम राजनीतिक टिप्पणी नहीं करते हैं। जो पैसा देगा पीके उसके लिए लाउडस्पीकर बनेंगे, यही है बिजनेस की पॉलिसी। हमारा स्टैंड क्लीयर है कि हमलोग उन लोगों की चिंता नहीं करते जो पैसा लेकर काम करते हैं।

Read Also:-दुष्कर्म मामले के फरार आरोपी राजद विधायक अरुण यादव की मुश्किलें बढ़ी

निखिल आनंद में बताया भाड़े का टट्टू

प्रशांत किशोर के ट्वीट पर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता निखिल आनंद ने भड़ास निकलते हुए जमकर कोसा। निखिल ने प्रशांत किशोर को भाड़े का टट्टू पॉलिटिकल एजेंट बताते हुए कहा वो सिर्फ पैसे के लिए काम करते हैं। पहले नीतीश कुमार की मर्सी पर काम करते थे अब लालू के पेरोल पर राजनीति कर रहे हैं।

 

Comment As:

Comment (0)

-->