No icon

सनातन धर्म विश्व की सबसे प्राचीन धर्म में एक है। हालांकि कालांतर वाइज धर्म में एकता भंग होती गई...

दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश में मिला भगवान गणेश का 1300 साल पुराना मूर्ति

D Bharat Desk: सनातन धर्म विश्व की सबसे प्राचीन धर्म में एक है। हालांकि कालांतर वाइज धर्म में एकता भंग होती गई और कई छोटे-छोटे धर्म जन्म लिए। जिसमें हिंदू धर्म विश्व विख्यात हुआ। हिंदू धर्म के भगवान श्री गणेश जिन्हें भगवान श्री शिव जी का पुत्र माना जाता है। श्री गणेश का तकरीबन 13 साल पुराना मूर्ति इंडोनेशिया में पाया गया है।  मध्य जावा के वोनोसोबो ज़िले के डेंग वेटन गाँव में खुदाई के दौरान यह मूर्ति मिली। सेंट्रल जावा इंस्टीट्यूट फॉर प्रिजर्वेशन ऑफ कल्चरल हेरिटेज ने 12 जनवरी को खुदाई कर यह मूर्ति निकाली।

Read Also:-औरैया में मुसलमानों द्वारा गाय को काटने से रोकने और जाए श्रीराम बोलने पर, सेना के जवान का पिटाई एक हिरासत में

इंडोनेशिया सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाला देश है। यहॉं की करीब 90 फीसदी आबादी इस्लाम धर्म को मानती है। बावजूद उसके करेंसी पर गणपति विराजमान हैं। दरअसल, भगवान गणेश को इंडोनेशिया में शिक्षा, कला और विज्ञान का देवता माना जाता है।

Read Also:-हिंदू बनकर छिपा था कुख्यात एजाज लकड़वाला, पटना से दरभंगा जा रहा था आधार कार्ड बनवाने

खुदाई में मिली भगवान गणेश की मूर्ति एंडीसाइट धातु से बनी हुई है। मूर्ति की ऊँचाई 140 सेमी और चौड़ाई 120 सेमी है। लेकिन, मूर्ति के सिर और हाथ का हिस्सा ग़ायब है। डेंग मंदिर इकाई संस्थान के प्रमुख, एरी बुदिर्तो (Eri Budiarto) ने बताया|

Read Also:-महागठबंधन में घमासान चालू, कांग्रेस अकेले 243 सीट पर चुनाव लड़ने में सक्षम- प्रेमचंद्र मिश्रा

ख़बर के अनुसार, भगवान गणेश की मूर्ति एक किसान ने खोजी थी। दिसंबर 2019 में जब वह अपने धान के खेत की जुताई कर रहा था तो 50 सेमी की गहराई में उसे मूर्ति का पता चला। डेंग पठार कलिंगा साम्राज्य से हिन्दू मंदिरों का स्थान रहा है, जो जावा के सबसे पुराने हिन्दू-बौद्ध राज्यों में से एक है। इस मूर्ति को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि इसका निर्माण 7वीं से 8वीं शताब्दी के बीच हुआ होगा।

Read Also:-पटना में बीजेपी कार्यकर्ताओं के द्वारा दीपिका का विरोध, दीपिका के पोस्टर पर कालिख पोत किया स्वाहा

इसके बाद इस द्वीपीय राष्ट्र में इस्लाम ने प्रवेश किया और आज जावा की 90 प्रतिशत आबादी मुस्लिम है। लेकिन, इस्लाम के बावजूद अभी भी यहाँ हिन्दू-बौद्ध का प्रभाव है। खुदाई के दौरान मिली भगवान गणेश की मूर्ति के मिलने के बाद से साइट से और भी महत्वपूर्ण वस्तुओं के मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

Comment As:

Comment (0)

-->